September 25, 2022

ExpressNews24x7

Leading News Channel Expressnews24x7

राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस: भारत को वर्ष 2070 तक नेट-जीरो उत्सर्जन वाली अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य

Spread the love

भारत को 2070 तक नेट-जीरो उत्सर्जन वाली अर्थव्यवस्था बनाने के लक्ष्य को देखते हुए हम जिस रफ्तार से विकास करना चाहते हैं उतनी ही गति से ऊर्जा दक्षता में सुधार की जरूरत है। इसके लिए हम सभी को अपनी-अपनी भूमिका निभानी है।

कल्पना कीजिए कि आप एक बर्तन में पानी उबालना चाहते हैं। ऐसा आप ढक्कन के साथ और बिना ढक्कन के कर सकते हैं। लेकिन बिना ढक्कन के पानी उबालने पर ईंधन का पूरा सदुपयोग नहीं हो पाता है और पानी उबलने में समय व गैस भी ज्यादा लगती है। अगर यही काम ढक्कन के साथ किया जाए तो पानी जल्दी उबलता है और गैस की भी बचत होती है।

यही बात भारत को वर्ष 2070 तक नेट-जीरो उत्सर्जन वाली अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य पाने पर भी लागू होती है, जिसकी घोषणा हाल ही में प्रधानमंत्री ने की है। हमारे घरों, कार्यालयों, वाहनों और कारखानों में ऊर्जा संरक्षण के हमारे प्रयास ही तय करेंगे कि भारत नेट-जीरो लक्ष्य को समय पर और कम से कम संसाधनों में हासिल कर सकेगा या नहीं। भारत को अपना दीर्घकालिक लक्ष्य पाने के लिए 2005 के स्तर से 2030 तक सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के प्रति करोड़ रुपये पर होने वाले उत्सर्जन को 45 प्रतिशत तक घटाने की जरूरत है।

About Post Author


Spread the love