October 6, 2022

ExpressNews24x7

Leading News Channel Expressnews24x7

Kedarnath Dham जाने वाले हर यात्री की लोकेशन होगी प्रशासन के पास, घोड़े और खच्चरों पर लगेगा जीपीएस

Spread the love

 केदारनाथ पैदल मार्ग पर यात्रियों को लेकर गौरीकुंड से केदारनाथ जाने वाले घोड़े-खच्चरों पर जीपीएस चिप लगेगी, ताकि हर यात्री व घोड़े की सही लोकेशन का पता चल सके। प्रशासन के निर्देश पर अब तक 2100 घोड़े और खच्चरों पर जीपीएस चिप लगा दी गई है।इस बार केदारनाथ की यात्रा पर चलने वाले हर घोड़े-खच्चर के माथे पर जीपीएस चिप लगाई जाएगी। इस चिप को लगाने का उद्देश्य यात्रियों की सुरक्षा है। केदारनाथ पैदल मार्ग पर घोड़े और खच्चरों से जाने वाले प्रत्येक यात्री की लोकेशन प्रशासन के पास रहेगी। केदारनाथ पैदल मार्ग आपदा की दृष्टि से काफी संवेदनशील है।पैदल मार्ग पर दुर्घटनाएं घटित होती रहती हैं। ऐसे में सुरक्षा की दृष्टि से यह जीपीएस चिप महत्वपूर्ण रहेगी। जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी राजेश पंवार ने बताया कि जितने भी घोड़े और खच्चरों का यात्रा मार्ग में पंजीकरण होगा, सभी पर यह चिप लगाई जाएगी।

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (सेनि) ने कहा कि चारधाम यात्रा की व्यवस्था के लिए सभी विभागों को आपसी समन्वय से कार्य करना होगा। श्रद्धालुओं की सुविधा और सुरक्षा का पूर्ण ध्यान रखा जाए। उन्होंने यात्रा के माध्यम से स्थानीय उत्पादों, विशेषकर महिला समूहों के उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

राज्यपाल गुरमीत सिंह ने राजभवन में चारधाम यात्रा की तैयारियों के संबंध में शासन के उच्चाधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा उत्तराखंड की सामाजिक, सांस्कृतिक व्यवस्था की पहचान है। स्थानीय नागरिक इस यात्रा का अभिन्न अंग हैं। उनकी भागीदारी के बिना यात्रा संभव नहीं है। होटल, परिवहन और छोटी दुकान चलाने वाले इस यात्रा के महत्वपूर्ण भागीदार हैं। सभी की सुविधाओं का पूर्ण ध्यान रखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यात्रा के दौरान तकनीक का प्रयोग करते हुए मूल्य वद्र्धन करें।

About Post Author


Spread the love