September 25, 2022

ExpressNews24x7

Leading News Channel Expressnews24x7

यूक्रेन में मारे गए भारतीय छात्र के साथी ने बयां किया वहां का मंजर, कहा- गोलीबारी में गई उसकी जान

Spread the love

 यूक्रेन के खारकीव में फंसे अनुराग पंवार को अभी तक बाहर निकलने का रास्ता नहीं मिल पाया है। खारकीव से जिस बस के जरिये अनुराग को अपने साथियों के साथ रेलवे स्टेशन पहुंचना था, बस के इंतजार के दौरान उनके एक साथी की गोलीबारी में मौत हो गई, जिसके बाद सभी छात्र बंकर में वापस लौट गए। उधर, खारकीव में फंसी शिवानी शर्मा खारकीव से ट्रेन के जरिये रोमानिया पहुंच रही हैं।

कोटद्वार के मोहल्ला जौनपुर निवासी अधिवक्ता किशन पंवार का पुत्र अनुराग खारकीव में एरोनाटिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है, जबकि उनकी बेटी इवानो में मेडिकल की पढ़ाई कर रही थी। बेटी तो सोमवार को सुरक्षित वापस आ गई। लेकिन, बेटा अभी तक खारकीव शहर में ही फंसा है। पिता किशन पंवार ने मंगलवार दोपहर अनुराग से हुई बातचीत के आधार पर बताया कि अनुराग व उसके साथियों ने रोमानिया बार्डर के लिए सुबह दस बजे बस मंगवाई थी। लेकिन बस नहीं पहुंची। बस देखने के साथ ही खाना लेने के लिए बंकर में मौजूद एक छात्र बाहर निकला और रूसी हमले का शिकार हो गया। बताया कि इस घटना के बाद से वे सभी काफी डर गए हैं। बताया कि उन्होंने दूतावास से संपर्क का प्रयास किया। लेकिन, दूतावास के अधिकारी किसी भी माध्यम से रोमानिया बार्डर पहुंचने के लिए कह रहे हैं।

About Post Author


Spread the love